गुना जिला Guna District GK History in hindi 2024

☛ गुना जिला

दोस्तों आज मैं आपको गुना शहर के प्रमुख दर्शनीय एवं पर्यटन स्थानों की विवेचना करने जा रहा हूं। और मैं आपको बता दूं कि गुना जिले में प्राचीन काल से निर्मित बहुत से ऐसे ऐतिहासिक मंदिर स्थापित हैं। जोकि देखने की दृष्टि से बहुत ही अत्यंत आवश्यक है l

गुना शहर के प्रमुख दर्शनीय स्थानों की विवेचना इस प्रकार है। गुना मध्य प्रदेश का एक जिला मुख्यालय है। इसे मालवा का मुख्य द्वार कहा जाता है।

गुना जिला
संभागग्वालियर संभाग
नदीसिंध
मंदिर20भुजा मंदिर, शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर, पंच मुखी हनुमान मंदिर
जलाशयसंजय सरोवर बांध
उत्पादनरॉक फासपेट
उद्योगसाइकिल उद्योग, चैनपुरा उद्योग ईटीसी
गुना निवासीरमेश चंद्र लाहोटी 
कारखानाउर्वरक बनाने का
समाधितेजा जी
भाषाबुंदेलखंडी
केंद्रभू अन्वेषण उपग्रह केंद्र
सर्वाधिक उत्पादनधनिया
जैन मंदिरदिगंबर जैन मंदिर
जिला बना1956

1) बजरंगगढ़ किला –

इस किले का निर्माण युगवंशी राजाओं ने 1620 ईसवी में करवाया था। यह किला गुना शहर से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह किला एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। यह अकबर के समय चंदेरी शासक द्वारा बनवाया गया मुख्य द्वार था। 1816 ईसवी में दौलत राम के जनरल इस महल पर आक्रमण करने के लिए भेजा था। और वह पराजित हो गए एवं इस महल को बहुत नुकसान किया गया। एवं इस महल के अंदर एक प्राचीन मंदिर भी बना हुआ है। इस किले के अंदर चार प्रवेश द्वार थे। एवं इसके अंदर मोती मंदिर, रंग मंदिर, राम मंदिर एवं बजरंग मंदिर का निर्माण भी किया गया था। एवं इसका निर्माण 1718 ईस्वी में किया गया था l

2) हनुमान टेकरी –

इस मंदिर का निर्माण लगभग शहर से 5 किलोमीटर की दूरी पर किया गया है। यह मंदिर ऊंची चोटी पर बनाया गया है। इस हनुमान टेकरी के मंदिर तक पहुंचने के लिए लगभग 350 सीढ़ियां भी चलनी पड़ती हैं। तभी हम हनुमान टेकरी के दर्शन कर सकते हैं। इस मंदिर का निर्माण बहुत ही शानदार तरीके से किया गया है। जिससे लोग यहां धार्मिक रूप से पहुंचते हैं। हम आपको बता देंगे यह हनुमान टेकरी का मंदिर बहुत ही प्राचीन काल से बना हुआ है। और यहां से गुना शहर के लगभग सभी मंदिरों को देखा जा सकता है। एवं दर्शन किए जा सकते हैं। इस चोटी पर पहुंच कर गुना शहर के सभी जगहों को देखा जा सकता है। इस कारण से बहुत से लोग यहां पर आनंद लेने के लिए पहुंचते हैं l

3) संजय सरोवर जलाशय –

हम आपको बता दें कि संजय सागर जलाशय गुना शहर से इंदौर रोड पर स्थित है। और यह जलाशय चारों तरफ से हरियाली से घिरा होने के कारण बहुत ही खूबसूरत नजारा दिखाई देता है। एवं इस जलाशय का आनंद लेने के लिए हम अपने परिवार एवं दोस्तों के साथ जा सकते हैं। और यहां का आनंद प्राप्त कर सकते हैं। यहां पर हम साथ साथ पिकनिक भी मना सकते हैं। और यहां नहाने का आनंद भी बड़ी सुगमता से लिया जा सकता है।

4) नेहरू पार्क –

हम आपको बता दें कि नेहरू पार्क गुना शहर के मध्य में स्थित है। और यहां पर बच्चों को खेलने एवं झूलने के लिए झूले की व्यवस्था भी की गई है। और वयस्क मनुष्य के लिए योगा करने के लिए भी सुविधा की गई है। इस पार्क में बैठने की व्यवस्था भी की गई है। और सभी लोगों के लिए पानी पीने की व्यवस्था भी है ।

5) शाहाबाद का किला –

यह किला गुना शहर से 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह किला प्राचीन काल से बना हुआ है। एवं काफी सुंदर ही दिखाई देता है। इसके लिए अंदर बाबड़िया एवं छतरिया का निर्माण भी किया गया है। एवं घोड़े की मूर्ति भी बनाई गई है। जो देखने में अत्यंत सुंदर दिखाई देती है। और यह किला पहाड़ी की ऊंचाई पर बनाया गया है। जिससे गुना शहर के और भी दर्शनीय स्थानों को देखा जा सकता है l

6) 20 भुजा मंदिर –

यह मंदिर जिला मुख्यालय से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह मंदिर पहाड़ी के ऊपर बना हुआ है। इस मंदिर में मां दुर्गा की 20 हाथों वाली मूर्ति बनाई गई है। और यहां पर लोग कहते हैं कि जो जिस पर मां दुर्गा की कृपा होती है। उसी को 20 हाथ गिरने या देखने का सौभाग्य प्राप्त होता है। एवं यहां पर 3 दीप भी स्थापित किए गए हैं। जिस पर नवरात्रि के समय सैकड़ों दीप जलाकर रात्रि के समय यहां का नजरिया अत्यंत दर्शनीय एवं सुंदर दिखाई देता है। मां दुर्गा का यह मंदिर बहुत ही प्रचलित है। जो लगभग 200 से 300 साल का हो चुका है l

7) गोपी कृष्ण सागर बांध –

हम आपको बता दें कि यह बांध गुना शहर से लगभग 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। और यह बहुत ही सुंदर दिखाएं देता है। एवं इस बांध के निकट एक पार्क भी बना हुआ है। जिसमें आनंद लेने के लिए बहुत से लोग आते हैं। यह बांध गुना शहर का प्रमुख पर्यटन एवं देखने वाला दृश्य है। जहां पर लोग बड़ी संख्या में एकत्रित होते हैं। और यहां का आनंद लेते हैं। और हम बता दें कि यहां पर लोग अपने परिवार एवं अपने दोस्तों के साथ आनंद लेने के लिए आते हैं। और साथ ही पार्टी एवं पिकनिक मनाने के लिए भी यह जगह अत्यंत मनोरम एवं शांत जान पड़ती है। इसलिए यह बांध गुना शहर का एक प्रमुख बांध है। जहां पर लोग बहुत ही संख्या में आते हैं, और भरपूर आनंद उठाते हैं l

8) शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर –

यह मंदिर गुना शहर के लगभग 4 से 5 किलोमीटर दूरी पर स्थित है। यह मंदिर 1216 ईस्वी में इसका निर्माण किया गया था। इसके निर्माण करने या करवाने वाले का नाम जैन संत श्री पादशाह के द्वारा बनवाया गया था। और हम आपको बता दें कि इस मंदिर की वास्तुकला एवं नक्काशी बहुत ही सुंदर है। एवं लाल पत्थर से बनी मूर्तियां बहुत ही सुंदर दिखाई देती। और इस मंदिर को दूर से देखने का बहुत ही आनंद एवं सुंदर दिखाई देता। इसका दृश्य अत्यंत मनोरम एवं मनभावन है। इसलिए लोग इसे देखने के लिए काफी जनसंख्या में आते हैं। और बहुत ही प्राचीन ऐतिहासिक मंदिर है। जो कि जैन धर्म के लिए प्रमुख रूप से माना जाता है l

9) पंचमुखी हनुमान मंदिर –

हम आपको बता दें कि यह मंदिर गुना से 7 किलोमीटर की दूरी पर अशोक रोड पर स्थित है। इस मंदिर में आपको हनुमान जी की पांच मुखी वाली मूर्ति के दर्शन होंगे एवं यह मंदिर बहुत ही प्रचलित मंदिर है। इसका निर्माण सन 2011 ईस्वी में किया गया था। इस मंदिर की मुख्य विशेषता यह है कि यहां पर हनुमान जी के पांच मुख देखने को मिलते हैं l

10) गुप्त गंगा –

यह प्रमुख दार्शनिक स्थान गुना से 9 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। और गुप्त रूप से यहां पर गंगा का प्रवाह होता है। यह स्थान धार्मिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण स्थान रखता है। और हम आपको बता दें कि यहां पर वातावरण हमेशा शांत एवं मनमोहक रहता है l

आवागमन गुना पहुंचने के लिए आपको बस से ही जाना होगा या अपने निजी वाहन से यहां पर पहुंचने के लिए कोई खास सुविधा उपलब्ध नहीं है। नहीं गुना जिले में घूमने के लिए कोई विशेष स्थान उपलब्ध है। मध्य प्रदेश के उत्तरी भाग का एक छोटा सा हिस्सा हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य

🌗 गुना जिला ग्वालियर संभाग के अंतर्गत आता है।

🌗 अशोकनगर जिला गुना जिले से ही अलग करके बनाया गया है।

🌗 गुना जिले का सारा हिस्सा मध्य भारत पठार के अंतर्गत आता है।

🌗 उत्तर में ज्वार, गेहूं का प्रदेश के अंतर्गत गुना जिला आता है ।

🌗 धनिया उत्पादन में मध्यप्रदेश का उज्जैन जिला शीर्ष पर आता है।

🌗 भू उपग्रह दूरसंचार अन्वेषण केंद्र गुना जिले में ही बनाया गया है।

FAQ,S

  1. गुना जिले में कौन सा उद्योग पाया जाता है।
    साइकिल उद्योग
  2. मध्य प्रदेश के गुना जिले में कौन सी जनजाति पाई जाती हैं।
    सहारिया
  3. गुना जिले में किस संत की समाधि बनाई गई है।
    तेजाजी
  4. गुना जिले में बोली जाने वाली भाषा कौन सी है।
    बुंदेलखंडी
  5. गुना जिले में लगने वाले प्रसिद्ध मेले का नाम क्या है।
    तेजाजी का मेला

Leave a Comment