ग्वालियर जिला Gwalior District GK History in hindi 2024

☑️ग्वालियर जिला
मध्य प्रदेश का खूबसूरत सा जिला ग्वालियर जिसके बारे में संपूर्ण जानकारी एकत्रित करके आज हम आपको आज हम आपको सभी पर्यटक स्थलों को बताना वाले हैं ताकि आपको एक ही पोस्ट में सभी जानकारी मिल सके ग्वालियर ग्वालियर संभाग के अंतर्गत आता है इसके अंतर्गत 8 जिले आते हैं उन्हीं में से एक है ग्वालियर जिला

किलाग्वालियर का किला
अभ्यारण्यघाटीगांव अभ्यारण
संगमरमररंगीन
अयस्कअभ्रक
दरवाजेहाथी फोड़ दरवाजा, चतुर्भुज मंदिर दरवाजा, आलमगीर दरवाजा ईटीसी
महलगुजरी महल,
किले का निर्माणमानसिंह तोमर
मंदिरबटेश्वर मंदिर, सूर्य मंदिर
पैलेसजय विलास पैलेस
मकबरातानसेन, मुहम्मद गोस
स्टेडियमरूपसिंह स्टेडियम
पार्कओल्ड वाटर पार्क
निवाससहारिया जनजाति

☑️ग्वालियर जिले की प्रमुख दर्शनीय एवं प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों की व्याख्या l

मेरे प्रिय दोस्तों आज मैं आपको ग्वालियर शहर के प्रसिद्ध एवं सुप्रसिद्ध स्थलों के बारे में बताने जा रहा हूं। और इस जिले के प्रमुख पर्यटक की जानकारी भी मैं आपको दूंगा l ग्वालियर के 21 प्रमुख स्थलों का वर्णन मैं आपको बताऊंगा। कि यह प्रमुख स्थल कहां कहां एवं किस जगह अपनी सुंदरता को विखेरते है l

1) ग्वालियर किला

यह ग्वालियर में स्थित है। और लगभग 3 किलोमीटर का एरिया कवर करता है। और यही एक पहाड़ी पर स्थित है। ग्वालियर शहर की सुंदरता कायम बनाने में सहायक है यह किला ग्वालियर का सबसे सुंदर किला है। यह किला मानसिंह तोमर द्वारा बनवाया गया था।

2) जय विलास पैलेस –

जो कि ग्वालियर शहर का एक विशाल पहले से जो 9 वीं शताब्दी में बनवाया गया था। इसका निर्माण करने वाला शासक जय राज सिंधिया ने बनवाया था।और यह बहुत ही खूबसूरत पैलेस माना जाता है।क्योंकि इसका पुनर्निर्माण 1874 ईस्वी में करवाया गया था।

3) गुजारी महल

इस महल का निर्माण राजा मानसिंह ने 13 वी शताब्दी में करवाया था। इस महल को बनवाने का प्रमुख कारण उनकी पत्नी के लिए उन्होंने इस महल का निर्माण 15 वीं शताब्दी में करवाया था। और उनकी पत्नी का नाम मृगनयनी देवी था l

4) मानमंदिर किला

ग्वालियर किला के दक्षिण भाग में स्थित है मानमंदिर किला का निर्माण 1415 से 1516 ईस्वी के मध्य इसका निर्माण करवाया गया था l यह किला आज भी एक सुंदर दृश्य के रूप में स्थित है। और इसका दृश्य बहुत ही खूबसूरत दिखाई देता है। यह किला ग्वालियर किला के निकट ही स्थित है।

5) टॉम ऑफ तानसेन

यह किला तानसेन के नाम से जाना जाता है। क्योंकि इस किले में तानसेन के रहने का निवास स्थान था। एवं यही उनका मकबरा बनाया गया था। तानसेन जोकि अकबर के नौ रत्नों में से एक था। और है प्रसिद्ध गायक था जोकि प्राचीन समय से लेकर आज तक उसका नाम गायक के रूप में दर्शनीय रहा है l

6) तेली का मंदिर

यह मंदिर 9 वीं शताब्दी में बनाया गया था।इस मंदिर की ऊंचाई लगभग 100 फीट है। यह मंदिर सिंधिया स्कूल के बगल में स्थित है। और देखने लायक स्थान हैं। इस मंदिर की ऊंचाई 100 फीट होने के कारण यह सबसे ऊंचा मंदिर है।

7) सास बहू मंदिर

यह ग्वालियर में स्थित है। इस मंदिर का निर्माण लगभग 9 वीं शताब्दी में किया गया था। और मंदिर सास बहू के नाम से सुप्रसिद्ध है। इस मंदिर का प्रमुख नाम सहस्त्रबाहु जोकि विष्णु भगवान का ही एक स्वरूप है। इसलिए इस मंदिर में अधिक से अधिक लोग दर्शन करने के लिए आते जाते रहते हैं l

8) सिंधिया म्यूजियम

यह म्यूजियम इसकी स्थापना 1964 ईस्वी में की गई थी। जोकि जीवाजी राव सिंधिया के नाम से प्रसिद्ध है। इसमें 15 कमरे भी सम्मिलित हैं और यह ग्वालियर शहर की सुप्रसिद्ध म्यूजियम में एक है।

9) टॉम ऑफ गौस मुहब्बत का मकबरा

यह मकबरा 1620 में बनाया गया था। जो सिंधिया के साथ साथ में बनाया गया था। और इसे हजारी के नाम पर जाना जाता है। आज यह हिंदू एवं मुस्लिम के लिए अहम भूमिका रखता है। यहां पर मुस्लिम हिंदू एवं हिंदू दोनों ही पूजा अर्चना करते हैं।

10) ग्वालियर जू

इसका निर्माण माधवराव सिंधिया ने करवाया था। यहां पर कई जानवर एवं पशु पक्षी निवास करते हैं । और 1922 ईस्वी में इसे ग्वालियर जू के नाम से जाना जाने लगा। और यहां पर पशु पक्षी का निवास स्थान बना दिया गया। इसलिए यहां की सुंदरता पशु पक्षियों के लिए दर्शनीय है इस कारण से यहां पर लोग आते जाते रहते हैं l

Read More –

11 ) सूर्य मंदिर-

यह ग्वालियर का सूर्य मंदिर देखने लायक है। जो इस शहर का खूबसूरत मंदिरों में से एक है इसकी सुंदरता अत्यंत शोभनीय है l

12) पदाबली एवं बटेश्वर मंदिर

ग्वालियर शहर से 40 किलोमीटर दूर पर स्थित यह मंदिर है। इन मंदिरों का निर्माण एक खाली स्थान पर किया गया था। जो कि इस स्थान को छोटा खजुराहो के नाम से भी जाना जाता है। और यह मंदिर बहुत ही खूबसूरत दिखाई देते हैं l

13) ग्वालियर ट्रेड फेयर

इसका निर्माण माधवराव सिंधिया ने करवाया था और यह फेयर लगभग 104 किलोमीटर के एरिया में फैला हुआ है। इस फेयर को हर बार मनाया जाता है l

14) श्याम वाटिका

वाटिका लगभग मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में सबसे बड़ी वाटिका है। और इसका रिकॉर्ड मध्यप्रदेश में स्थित है। यह वाटिका बहुत ही सुंदर एवं दर्शनीय दिखाई देती है। यहां पर काफी संख्या में लोगों की भीड़ जमा रहती है। यह वाटिका का निर्माण माधवराव सिंधिया ने करवाया था जो कि लगभग 1987 में इसका निर्माण करवाया गया थाl

15) रूप सिंह स्टेडियम

यह ग्वालियर जिले का एक प्रमुख स्टेडियम है।जहां पर नेशनल एवं इंटरनेशनल क्रिकेट मैच खेले जाते हैं। इसी मैदान पर सचिन तेंदुलकर ने 200 रनों की पारी खेली थी। यह मैदान ओ डी आई गेम के लिए यह स्टेडियम जाना जाता है। इस स्टेडियम में बहुत से मैच खेले जा चुके हैं। और यह स्टेडियम ग्वालियर का प्रमुख स्टेडियम है l

16) ऊषा किरण पैलेस

पैलेस का निर्माण सिंधिया शासक में 1840 ईस्वी में किया गया था। यह पैलेस अब होटल में कन्वर्ट कर दिया गया है। जो कि गेस्टो के लिए खाना एवं आराम करने के लिए स्थान बना दिया गया है l

17) गोपाचल पर्वत

यह पर्वत 7 से 15 वीं शताब्दी में इसका निर्माण करवाया गया था।इस पर्वत में जैन धर्म से संबंधित मूर्तियों को विराजमान कराया गया है। जिसमें आदिनाथ ,नेमिनाथ जैसी मूर्तियों का विश्लेषण करता है l

18) समाधि ऑफ़ रानी लक्ष्मी बाई –

यह समाधि रानी लक्ष्मीबाई की याद में बनाई गई है। जो कि 9 फीट लंबी एवं 12 फीट ऊंची बनाई गई है। और इसके ऊपर घोड़े पर बैठे रानी लक्ष्मीबाई की मूर्ति स्थापित की गई है l

19) सिंधिया डायनेस्टी छतरियां –

यहां पर सिंधिया की याद में छतरीयों का निर्माण करवाया गया है। जो मुगलकालीन शासनकाल में जिस प्रकार मंदिरों का निर्माण कराया गया था। उसी तरह सिंधिया डायनेस्टी में छतरियों का निर्माण कराया गया है। यहां पहली छतरी 1817 ईस्वी में जीवाजी राव सिंधिया के लिए बनवाई गई थीl

20) डिस्प्ले सदा सनसिटी –

यहां पर प्रमुख रूप से एक जल से भरा हुआ पार्क है। जहां पर पूरे परिवार के साथ रोमांचक दृश्य एवं घूमने फिरने की जगह है। जो ग्वालियर में बहुत ही प्रसिद्ध है l

21) ओल्ड वाटर पार्क –

यह पार्क ग्वालियर रोड पर स्थित है यह ओल्ड वाटर पार्क लोगों के लिए बहुत ही दर्शनीय है। जहां पर लोग बड़ी जनसंख्या में पानी में तैरने एवं यहां के दर्शनीय स्थल का आनंद लेने के लिए आते हैl

ग्वालियर जिला Gwalior District GK History in hindi important facts

✔ग्वालियर ग्वाला पर्वत के नाम पर इसका नाम ग्वालियर पड़ा।

✔ग्वालियर के किले का निर्माण मानसिंह तोमर ने करवाया था।

✔पोट्रिज लिमिटेड का मुख्यालय ग्वालियर जिले में स्थित है।

✔घाटीगांव अभ्यारण ग्वालियर जिले का प्रमुख अभ्यारण है।

✔उच्च न्यायालय की एक खंडपीठ ग्वालियर जिले में बनाई गई है।

✔ग्वालियर मध्य भारत के पठार के अंतर्गत आता है।

✔ मध्य प्रदेश का सबसे सिंचित जिला ग्वालियर है।

ग्वालियर जिला Gwalior District GK History in hindi FAQ,s

1. ग्वालियर शहर किस परियोजना से लाभान्वित होता है
भांडेर नहर परियोजना

2. घाटीगांव अभ्यारण में किसका संरक्षण किया जाता है
सोन चिड़िया

3. अभ्रक (माइका)का सर्वाधिक उत्पादन कहां पर होता है।
ग्वालियर

4. सहरिया जनजाति का मुख्य निवास स्थान किस जिले में है।
ग्वालियर

Leave a Comment